जानिये जल्दी गर्भधारण करने का सही तरीका

How to get pregnant in Hindi: एक महिला के लिए बच्चे को जन्म देना काफ़ी खुशी की बात होती है, और वो इस दिन की काफ़ी इन्तेजार भी करती है। इसीलिए प्रेगनेंसी के इस लेख “how to get pregnant fast in hindi” के माध्यम से हम आपको कुछ जल्दी प्रेग्नेंट होने के टिप्स बताने जा रहे है।

गर्भावस्था की स्थिति अचानक नहीं आती, गर्भवती होने के लिए आपका फर्टिलाइजेशन अच्छे से होना चाहिए।

प्रेग्नेंट होने के लिए आपको अपने पीरियड साइकल का सही ज्ञान होना ज़रूरी है। शारीरिक सम्भोग के फलस्वरूप गर्भवती होने से पहले इस बारे मे अच्छे से सोच ले की आप असल मे एक बच्चे को जन्म देना चाहती है या नहीं। इनफर्टिलिटी की प्राब्लम से परेशान लोगो को डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए और गर्भवती होने के दूसरे तरीके प्रयोग मे लाने चाहिए।

इससे पहले की दोस्तों हम आपको जल्दी गर्भवती होने के उपाय (How to Pregnant in Hindi) विस्तार से बताये उससे पहले आपका आपका गर्भवती न होने के कारणों का जानना बहुत जरुरी है तो आइये जानते है गर्भवती न होने कारण:

Why You’re Not Getting Pregnant?

  • अंडे की गुणवत्ता
  • अवरुद्ध अण्डवाही ट्यूबें
  • असामान्य हार्मोन के स्तर
  • जीवन शैली
  • यौन संचारित रोग
  • मोटापा
  • शुक्राणु बनने की समस्य – बहुत कम शुक्राणू या बिलकुल नहीं।
  • मदिरा, ड्रग्स एवं सिगरेट पीना – Alcohol, Drugs And Cigarette Smoking
  • वातावरण का विषैलापन जैसे कीटनाशक दवाएं

Ye Bhi Padhe: गर्भावस्था के लक्षण

How to get Pregnant in Hindi

How to Pregnant in Hindi

जितने भी लोग बच्चा पैदा करना चाहते है उनमे से लगभग 85% लोग एक साल के अंदर ऐसा करने मे सफल हो जाते है। जिसमे से 22% लोग तो पहले महीने के अंदर ही सफल हो जाते है। यदि एक साल तक प्रयास करने पर भी बच्चा ना हो तो यह एक समस्या का विषय हो सकता है, और ऐसे कपल्स को इनफरटाइल समझा जाता है।

बच्चा पैदा होने के लिए कपल्स के बीच सेक्स का होना ज़रूरी है। और इसके दौरान पुरुष का पेनिस औरत के वेजाइना मे जाना चाहिए और उसे औरत के वेजाइना मे स्पर्म छोड़ने होंगे, जिससे स्पर्म, यूटरस (गर्भाशय) के मुख के पास इकट्ठा हो जाएगा। यह प्रोसेस सेक्स के दौरान अपने आप ही हो जाती है। इसलिए इसकी चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है।

How to Get Pregnant in Hindi Language

इसके अलावा संभोग ओव्युलेशन के टाइम के आस-पास होना चाहिए। ओव्युलेशन एक ऐसी प्रोसेस है जिसमे महिलाओ के ओव्री (अंडाशय) से अंडे निकलते है। ओव्युलेशन मेन्स्ट्रवुशन साइकल (MC) यानी मासिक धर्म चक्र का भाग होता है, जो की MC के 14 दिन जब ब्लीडिंग स्टार्ट हो जाती है तब शुरू होता है।

बच्चा पैदा करने के लिए महिलाओ मे सेक्स के दौरान ऑर्गॅज़म होना ज़रूरी नही है। डॉक्टर्स का कहना है की फेलोपियन ट्यूब जो की अंडे को ओव्री से यूटरस तक ले जाता है, स्पर्म को अपने अंदर खींच ले जाता है और उसे एग से मिलाने की कोशिश करता है। और इसके लिए महिलाओ मे ऑर्गॅज़म का आना ज़रूरी नहीं है।

Ye Bhi Padhe: लड़का होने के तरीके और उपाय

डॉक्टर से जांच कराये


बच्चे की प्लॅनिंग करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले लेना चाहिए और अपनी जाँच करा लेना चाहिए। इससे यह पता चलता है की आपको किसी तरह की शारीरिक परेशानी तो नही है, या कोई इन्फेक्षन। इससे सेक्सुअली ट्रॅन्स्मिटेड डिसीज़ होने की संभावना ख़त्म हो जाएगी।

ओवुलेशन के समय का ध्यान रखे

How to get pregnant in Hindi

बच्चा पैदा करने के लिए महिलाओ के एग्स ओव्री से निकलने के 24 घंटे के अंदर ही फर्टिलाइज़ होने चाहिए। आदमी के स्पर्म औरत के रिप्रोडक्टिव ट्रॅक्ट (प्रजनन पाठ) मे 48 से 72 घंटे तक ही जीवित रह सकते है। चुकी बच्चा पैदा करने के लिए एंब्रीयो (भ्रूण) एग और स्पर्म के मिलन से ही बनता है।

इसलिए कपल्स को ओवुलेशन के दौरान कम से कम 72 घंटे मे एक बार ज़रूर सेक्स करना चाहिए और इस दौरान पुरुष को औरत के ऊपर होना चाहिए, ताकि स्पर्म के लीकेज की संभावना कम हो।

साथ ही पुरुषो को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की वो 48 घंटे मे एक बार से ज़्यादा ना एजॅक्यूलेट करे वरना उनका स्पर्म काउंट काफ़ी नीचे जा सकता है, जो हो सकता है की एग जो फर्टिलाइज़ करने मे पर्याप्त ना हो।

एक हेल्दी लाइफस्टाइल बनाये रखे

बच्चा पैदा करने के चान्सेस बढ़ाने के लिए बेहद आवश्यक है की पति-पत्नी एक हेल्दी लाइफ स्टाइल बनाए रखे। इससे होने वाली संतान भी अच्छी होगी। खाने-पीने मे पर्याप्त भोजन और फल की मात्रा रखे।

विटमिन्स की सही मात्रा से पति-पत्नी दोनो की फर्टिलिटी रेट बढ़ती है। रोजाना एक्सर्साइज़ करने से भी फायदा होता है।

नशा न करे

ड्रग्स, नशीली दवाओ, सिगरेट या शराब के सेवन आदमी औरत दोनो के हॉर्मोन्स का संतुलन बिगड़ सकता है और आपकी प्रजनन क्षमता को बुरा प्रभाव पैदा करता है और बच्चो मे भी जन्मजात विसंगतिया हो सकती है। सिगरेट पीने वाली महिला मे कन्सीव करने के चांस 40% तक घट जाते है।

दवाइयों का सेवन कम करे

How to Get Pregnant Fast in Hindi

कई मेडिसिन यहां तक की आराम से मिल जाने वाली आम मेडिसिन भी आपकी फर्टिलिटी पर बुरा प्रभाव डाल सकती है। कई चीज़े ओव्युलेशन को रोक सकती है।इसलिए दवाओ का यूज़ कम से कम करे।

बेहतर होगा की आप किसी भी प्रकार की दवाई को लेने या छोड़ने से पहले डॉक्टर्स से सलाह ले ले। खुद अपना इलाज करना घातक हो सकता है। ऐसा रिस्क ना ले।

तनाव मुक्त रहे

इसमे कोई शक नहीं है की ज़्यादा तनाव आपके रिप्रोडक्टिव फंक्षन मे प्रभाव डालेगा। तनाव से कामेक्शा ख़त्म हो सकती है। और एक्सट्रीम कंडीशन्स मे महिला मे मेन्स्ट्रवुशन की प्रोसेस को रोक सकती है। एक शांत मन आपके शरीर पर अच्छा प्रभाव डालता है। और आपके प्रेग्नेंट होने की चान्सेस को बढ़ाता है।

तनाव मुक्त रहने की लिए आप रेग्युलर्ली ब्रीदिंग एक्सर्साइज़ और रिलॅक्सेशन टेक्नीक्स का यूज़ कर सकते है।

वज़न कम करे

कई बार महिलाओ का वज़न ज़्यादा होने के कारण गर्भधारण करने में परेशानी आती हैं, क्योंकि इस प्रक्रिया में उनका वज़न यानी शरीर में जमा वसा बाधा बन जाती है। एक शिशु को जन्म देने के लिए महिला और पुरुष दोनों का स्वस्थ रहना काफी ज़रूरी होता है।

अत्याधिक वज़न होने के कारण महिलाओं को इनफर्टिलिटी की समस्या होती है। अतः गर्भधारण का प्रयास करने से पहले महिलाओं को दो से तीन महीने तक व्यायाम और योग द्वारा अपना मोटापा या वज़न कम करने का प्रयास करना चाहिए।

Other Tips for How to Get Pregnant Fast in Hindi

गर्भ जल्दी धारण करने के लिए आप उन चीजों का सेवन करे जिनमे फोलिक एसिड हो चूँकि दाल में फोलिक एसिड के साथ प्रोटीन भी होता है तो गर्भवती होने के लिए आप दाल का सेवन कर सकती है।

हरी पत्तेदार सब्जियां आपको तंदुरुस्त और बनाने और गर्भ धारण में मदद करती है।

यदि किसी महिला को माहवारी नियमित रूप से हो रही है फिर भी वह गर्भवती नहीं हो पार रही है तो उन स्त्रियों को मासिक-धर्म के दिनों में तुलसी के बीज चबाने या काढ़ा बनाकर सेवन करने से गर्भधारण हो जाता है।

मासिक धर्म के समय के अनुसार शारीरिक संबंध का समय तय करे।

एक महिला के शरीर में शुक्राणु बहुत थोड़े दिनों तक रहते हैं। इसलिए गर्भ ठहरने के लिए कई बार संबंध बनाये।

अगर आप गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन कर रही है तो उन्हें तुरंत लेना बंद कर दे।

सम्बन्ध ऐसी अवस्था में बनाये जिससे एक पुरुष और महिला के साथ गहरा संबंध प्रस्थापित कर सके। संबंध के बाद महिला को अपनी पीठ के बल पंद्रह मिनट तक लेती रहे जिससे की शुक्राणु स्त्री के बीज तक पहुँच सके।

तो पाठको आज हमने आपको How to get pregnant in Hindi language, के बारे में बताया, आशा करते है आप को लेख “जल्दी प्रेग्नेंट होने के टिप्स” How to Get Pregnant Fast in Hindi पसंद आया होगा।

Post Tag: How to get pregnant in Hindi Language, How to Pregnant in Hindi, Get pregnant fast in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *