जल्दी प्रेग्नेंट होने के तरीके

एक महिला के लिए बच्चे को जन्म देना काफ़ी खुशी की बात होती है, और वा इस दिन की काफ़ी वेट करती है. गर्भवती की पोज़िशन अचानक न्ही आती, इसमे गड़ना का काफ़ी बड़ा हाथ होता है. गर्भवती होने के लिए आपका फर्टाइलाइज़ेशन आचे से होना चाहिए.

बच्चा पैदा करने के लिए महिलाओ मे सेक्स के दौरान ऑर्गॅज़म होना ज़रूरी नही है. डॉक्टर्स का कहना है की फेलोपियन ट्यूब जो की अंडे को ओव्री से यूटरस तक ले जाता है, स्पर्म को अपने अंदर खींच ले जाता है और उसे एग से मिलने की कोशिश करता है. और इसके लिए महिलाओ मे ऑर्गॅज़म का आना ज़रूरी न्ही है.

BACHA KAISE PAIDA HOTA HAI
1. Doctor se Jaanch Karaye
बचे की प्लॅनिंग करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले लेना और अपनी जाँच करा लेना चाहिए. इससे यह पता चलता है की आपको किसी तरह की शारीरिक परेशानी तो नही है, या कोई इन्फेक्षन. इससे सेक्षुयली ट्रॅन्स्मिटेड डिसीज़ होने की संभावना ख़त्म हो जाएगी. साथ ही अगर डिंबग्रती अल्सेर, फायबराइड, एंडोमेट्रियोसिस, गर्भशे के अस्तर की सूजन जैसे प्राब्लम की भी जाँच हो जाएगी.

2. Ovulation Ke Time Kare Sex

गयणेक्ोलोगीस्तस का मानना है की बचा पैदा करने के लिए लॅडीस के एग्स ओव्री से निकालने के 24 घंटे के अंदर ही फर्टिलाइज़ होने चाहिए. आदमी के स्पर्म्ज़ औरत के रिप्रोडक्टिव ट्रॅक्ट (प्रजनन पाठ) मे 48 से 72 घंटे तक ही जीवित रह सकते है. चुकी बचा पैदा करने के लिए नेसेसरी एंब्रीयो (भ्रूण) एग और स्पर्म के मिलन से ही बनता है.

इसलिए कपल्स को ओव्युलेशन के दौरान कम से कम 72 घंटे मे एक बार ज़रूर सेक्स करना चाहिए और इस दौरान पुरूस को औरत के उप्पर होना चाहिए, ताकि स्पर्म्ज़ के लीकेज की संभावना कम हो.

साथ ही पुरूसो को एस बात का ध्यान रखना चाहिए की वो 48 घंटे मे एक बार से ज़्यादा ना एजॅक्यूलेट करे वरना उनका स्पर्म काउंट काफ़ी नीचे जा सकता है, जो हो सकता है की एग जो फर्टिलाइज़ करने मे प्रायपत ना हो.

3. Ek Healthy Lifestyle Banaye Rakhe

बचा पैदा करने के चान्सस बढ़ने के लिए बेहद आवश्यक है की पति-पत्नी एक हेल्ती लाइफ स्टाइल बनाए रखे. इससे होने वाली संतान भी अची होगी. खाने-पीने मे प्रायपत भोजन और फल की मात्रा रखे.

विटमिन्स की सही मात्रा से पति-पत्नी दोनो की फर्टिलिटी रते बढ़ती है. रोजाना एक्सर्साइज़ करने से भी फयडा होता है. सिग्रटी पीने वाली महिला मे कन्सीव करने के चान्सस 40% तक घाट जाते है.

4. Nasha Na Kare

ड्रग्स, नशीली दवाओ, सिगरेट या शराब के सेवन आदमी औरत दोनो के हॉर्मोन्स का संतुलन बिगड़ सकता है और आपकी प्रजनन च्चामता को बुरा एफेक्ट पद सकता है और बच्चो मे भी जन्मजात बिसंगतिया हो सकती है.

5. medicines ka Use Kam Kare

कई मेडिसिन य्चा तक की आराम से मिल जाने वाली आम मेडिसिन भी आपकी फर्टिलिटी पर बुरा एफेक्ट दल सकती है. कई चीज़े ओव्युलेशन को रोक सकती है. इसलिए दवाओ का उसे कम से कम करे. बेहतर होगी की आप किसी डॉवा को लेने या छ्चोड़ने से पहले डॉक्टर्स से सलाह ले ले. खुद अपना इलाज करना घातक हो सकता है. ऐसा रिस्क ना ले.

6. Stress Free Rahe

इसमे कोई शक न्ही है की ज़्यादा तनाव आपके रिप्रोडक्टिव फंक्षन मे बढ़ा डालेगा. तनाव से कामेक्शा ख़त्म हो सकती है. और एक्सट्रीम कंडीशन्स मे महिला मे मेन्स्ट्रवुशन की प्रोसेस को रोक सकती है. एक शांत मान आपके शरीर पर अच्छा एफेक्ट डालता है. और आपके प्रेग्नेंट होने की चान्सस को बढ़ता है. इसके लिए आप रेग्युलर्ली ब्रीदिंग एक्सर्साइज़ और रिलॅक्सेशन टेक्नीक्स का उसे कर सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *